· 

शरीर में घोड़े जैसी शक्ति और स्फूर्ति लाए — अश्व शक्ति पावडर

मैं 30 साल का हो गया हूं। लेकिन, मेरी बॉडी है कि बढ़ने का नाम ही नहीं ले रही है। अब तो दोस्त-यार भी यह कहकर चिढ़ाने लगे है कि यार — तू तेज हवा में बाहर निकला न कर, हवा में उड़ जाएगा। लड़कियां तो मेरी तरफ देखते ही मुझसे मुंह मोड़ लेती हैं। अपने दोस्तों में सबसे ज्यादा मैं खाता हूं फिर भी शरीर में कुछ लगता ही नहीं। पता नहीं कहा चला जाता है। जो भी खाता हूं ठीक से पचता ही नहीं। शरीर में हर समय आलस्य व शिथिलता बनी रहती थी। वहीं मेरे दोस्त मुझसे कमजोर दिखने पर भी वे हर समय इनर्जी से भरपूर रहते थे। समझ में ही नहीं आ रहा था मेरे साथ ही ऐसा क्यों है। मेरे अंदर का आत्मविश्वास धीरे-धीरे खत्म होता जा रहा था। जिंदगी बेरंग सी लगने लगी थी।

 

एक दिन सुबह जब मैं रोजाना की तरह अपनी नौकरी के लिए ऑफिस की ओर निकला। ट्रैफिक सिग्नल पर जब मैं गहरे सोच में डूबा हुआ जब सिग्नल क्लियर होने का इंतजार कर रहा थो, तो मेरी यूंही नजर सड़क के किनारे लगे होर्डिंग पर पड़ी। उस पर लिखा था — क्या आपको अपने शरीर में दुर्बलता महसूस होती है? यदि ‘ हां ‘ तो अश्व शक्ति पावडर आपके लिए है। बस इतना पढ़ा ही था कि तब तक ट्रैफिक सिग्नल खुल चुका था। चूंकि भीड़-भाड़ वाले प्लेस पर वो विज्ञापन लगा था और मैं अपनी गाड़ी पर सवार था इसलिए, मैं अपनी गाड़ी रोक भी नहीं सकता था। गाड़ी चलाते-चलाते मैं बार-बार पलट कर तब तक उसे देखता रहा जब तक कि मैं वहां से बहुत दूर निकल न गया।

 

दवाईयों के साइड एफेक्ट्स भी

 

उस दिन मेरा आफिस में किसी काम में मन नहीं लग रहा था। मेरे मन में बार-बार उस एडवर्टाइजमेंट का ख्याल आ रहा था। लग रहा था मानो जेसे वह मेरे लिए संजीवनी बूटी लेकर आया हो। एक तरफ मुझे अपनी समस्याओं का ख्याल आ रहा था तो दूसरी ओर उस दवाई का। मन में इसको लेकर कुछ नेगेटिव विचार भी आ रहे थे। क्योंकि अक्सर टीवी, न्यूज पेपरो, वाट्स एप, फेस बुक और दोस्त-यारों और लोगों से झूठे आश्वासान देने वाली विदेशी दवाईयों और इनके साइड एफेक्ट्स के बारे में काफी कुछ सुन रखा था। पता था कि आमतौर पर शक्तिवर्धक दवाईयां शरीर को मजबूत करने की जगह उसको और भी कमजोर बना देती है। इसके दुष्प्रभाव से शरीर फूल जाता है और दवा बंद करने के कुछ दिनों बाद फिर से शरीर वैसे ही हो जाता है। शरीर में नपुंसता आ जाती है और शरीर के दूसरे अंगों जैसे कि फेफड़े, लीवर और किडनी पर भी बुरा असर पड़ जाता है। फिर हमारा शरीर इन दवाईयो का ही मोहताज बनकर रह जाता है। ऊपर से जेब भी खाली हो जाती है सो अलग ।

 

डायबिटीज के कारण भी यह समस्या-

 

हमारे ब्लड में जब शूगर की मात्रा जब बहुत बड़ जाती है तब भी डायबिटीज हो जाती है। इसमें व्यक्ति को काफी शारीरिक कमजोरी रहती है। ये लाइफ स्टाइल डिसीज होती है यानी गलत दिनचर्या या आदतों के कारण होने वाली बीमारी ।

 

प्राकृतिक औषधियों के मिश्रण से बना है — अश्व शक्ति पावडर

 

आखिर रहा नहीं गया। मेरा मन कह रहा था ये प्रोडक्ट ऐसा नहीं है। अश्व शक्ति को लेकर मेरे मन में जिज्ञासा बढ़ती ही जा रही थी। समझ में नहीं आ रहा था उसके बारे में किससे पूछूं, किससे पता करूं। फिर कम्प्यूटर पर काम करते-करते ये ख्याल आया क्यों न गुगल करके देखूं। उससे कुछ न कुछ जरूर पता चलेगा। इंटरनेट पर टाइप करते ही मुझे गुगल इसके वेबसाइट एड्रेस http://ayurvedichealthcare.in/ पर ले गया। ब्राउस करते-करते मेरी निगाह वहां दिए अश्व शक्ति पावडर के ऊपर पड़ी। जब मैं इसमें दिए कंटेट को डिटेल में पढ़ने लगा तो मेरी खुशी का मानो जैसे ठिकाना ही नहीं रहा। इसको बनाने में इस्तेमाल में होने वाली सारी चीजें आयुर्वेदिक औषधियां हैं। एक भी चीज ऐसी नहीं थी जो मेरे शरीर के लिए घातक हो।

 

सात औषधियों से बना अश्व शक्ति पावडर

 

अश्व शक्ति पावडर सात औषधियों से मिलकर बना होता है। आइये देखते हैं कि कौन सी औषधि क्या प्रभाव दिखाती है-

 

1-अश्वगंधा

 

यह शक्तिवर्धक औषधि शरीर की बिगड़ी हुए अवस्था को सुधारकर उसमें मजबूती लाती है। इसमें एंटी एजिंग, एंटी ट्यूमर, एंटी आक्सीडेंट और एंटी स्ट्रेस के गुण विद्यमान है। यह इंसान को घोड़े की तरह ताकतवर बनाने का दमखम रखती है।

 

2-कौंच

 

इसका इस्तेमानल सेक्स शक्ति को बरकरार रखने के लिए किया जाता है। चिंता और तनाव को दूर करने में मददगार। यौन ग्रंथियों को मजबूती प्रदान करती है। शरीर में कोलेस्ट्राल और ब्लडशुगर लेवल को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

 

3-विधारा

 

यह शरीर में कफ और वात दोषों को दूर करती है। वीर्य को बढ़ाती है। मांसपेशियों को ताकत देकर मनुष्य का आयु वर्धन करती है।

 

4-गोक्शुरा

 

यह शरीर में एनर्जी और टेस्टोस्टेरोन लेवल को बढ़ा देती है। मर्दानगी को बढ़ाने में सहायक है। इसका प्रयोग व्यक्ति का स्टेमिना बढ़ाता है और मसल्स की रिकवरी तेजी से होती है।

 

5-सफेद मुसली

 

यह चमत्कारिक औषधि शारीरिक शिथिलता को दूर करके शरीर की ऊर्जा को बढ़ाती है। उम्र के असर को कम कर सुंदरता बढ़ाती है। रक्तचाप और गठिया में भी यह लाभकारी है।

 

6-सत्व

 

यह प्रतिरक्षा प्रणाली को शक्ति देता है। शरीर के काम करने की कार्य कुशलता को बढ़ाता है।

 

7-गिलोय सत्व

 

 

यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। लीवर की कार्यप्रणाली में सुधार, त्रिदोश को दूर करते हुए शरीर में नए रक्त की निर्माण क्रिया और प्लेटलेट्स की संख्या को बढ़ाता है।

 

सात औषधियां सात धातुओं की वाहक

 

हमारे शरीर में सात धातुएं होती है — रस, रक्त, मांस, मेद, अस्थि, मज्जा और वीर्य। रस का काम होता है प्राणों को धारण करना, रक्त का जीवन धारण करना, मांस का शरीर को पुष्ट रखना, मेद का काम शरीर को चिकना रखना, हड्डी का काम शरीर को खड़ा रखना, मज्जा का पूर्ण करना और वीर्य का काम गर्म उत्पादन करना है। अश्व शक्ति में विद्यमान हमारे शरीर में विद्यमान 7 धातुओं की कमी को पूरा करके हमारे शरीर को संतुलिन में लाती हैं। ये धातुएं हमारे शरीर की न केवल वीकनेस को दूर करती हैं बल्कि हमारी इम्यूनिटी को भी बढ़ाती हैं।

 

लाइफ स्टाइल में परिवर्तन लाती है अश्व शक्ति औषधि

 

भगवान का नाम लेकर मैंने सुबह और शाम को इसे दूध के साथ लेना शुरु किया । इसे लेने के कुछ दिनों बाद, न केवल मेरे शरीर का स्टेमिना बढ़ने लगा बल्कि काम में मेरा हर काम में मन भी लगने लगा। सारा दिन अच्छा बीतता। ये तो कमाल हो गया ! ऑफिस का टाइम खत्म होने पर मेरे कलीग्स मुझसे पूछने लगे, यार कमाल हो गया ! घर नहीं जाना। अरे भाई — क्या थकते-वकते नहीं हो क्या ! मैं मुस्कराकर कहता — बस निकलता हूं, थोड़ी देर और लगेगा ।

 

अप एक्सरसाइज करने के बाद भी शरीर में थकान का नामोनिशान नहीं रहता। उल्टे पूरे दिन चुस्ती-फुर्ती बनी रहती है। मुझे मेरी गलती का भी अब एहसास हो गया है। लाइफ स्टाइल भी पहले से सुधरी है। गलत खान-पान की आदतों पर भी लगाम लगाई है। मेरी तो राय में हर किसी को कम से कम एक बार तो अश्व शक्ति टॉनिक को यूज करके देखना ही चाहिए। फर्क आप खुद देखेंगे !

 

तो देखना ना आपने-

 

अश्व शक्ति पावडर शरीर की तमाम तरह की शारीरिक कमजोरियों को किस तरह से जड़ से मिटाता है। इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। आदमी के अंदर एक अद्भुत शक्ति का संचार करता है। कमाल की औषधि है यह ।

 

खराब दिनचर्या के कारण अगर आपके अंदर किसी तरह की वीकनेस आ गई है, मैरिज लाइफ डिस्टर्ब हो गई है, हर समय तनाव और गुस्सा बना रहता है तो आपके शरीर में घोड़े जैसी शक्ति और स्फूर्ति लाए —अश्व शक्ति पावडर।

 

मधुमेह, मोटापा, शरीर के जोड़ों में दर्द, मेटाबोलिक डिसआर्डर की वजह से अंदरूहनी बीमारियां पनपने लगती हैं। हमारी गलत दिनचर्या इन सबकी जवाबदेह है। इसलिए, अश्व शक्ति पावडर लेने के साथ ही अपनी दिनचर्या की गाड़ी को भी पटरी पर लाएं और एक खुशहाल जिंदगी का वरदान पाएं ।

Write a comment

Comments: 0